समर्थक

बुधवार, 4 दिसंबर 2013

अपूर्वा की ड्राइंग : चाय का प्याला

चाय के बिना सुबह अधूरी लगती है. पर चाय के लिए कप भी तो चाहिए। यह कप कलर किया है अपूर्वा ने.
From Apurva's Drawing Book : Cup

3 टिप्‍पणियां:

  1. अति सुन्दर- कलाकार है अपूर्वा तो

    उत्तर देंहटाएं
  2. bahut dino baad blog per aaya..bt yesa laga ki ye rista to kabhi alag hi nahi huya...apurva ke blog ke liye dher sari dubhkamnaye........udan tashtari ke kya kahne:)

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत सुन्दर प्रस्तुति..
    आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आप की इस प्रविष्टि की चर्चा शनिवार 07/12/2013 को चलो मिलते हैं वहाँ .......( हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल : 054)
    - पर लिंक की गयी है , ताकि अधिक से अधिक लोग आपकी रचना पढ़ सकें . कृपया पधारें, सादर ....

    उत्तर देंहटाएं