समर्थक

रविवार, 27 अक्तूबर 2013

'अपूर्वा' के जन्म-दिन पर नए ब्लॉग का उपहार : तुम जियो हजारों साल ...

एक लम्बे समय ब्लागर बंधु पूछ रहे थे कि आपकी बेटी अपूर्वा ब्लागिंग के क्षेत्र में कब आएगी। जब घर में मम्मी-पापा, बहन से लेकर दादा-चाचा तक ब्लागिंग में सक्रिय हों तो यह सवाल उठना भी स्वाभाविक है। खैर, आज  27 अक्टूबर, 2013 को अपूर्वा अपना तीसरा जन्म-दिन सेलिब्रेट कर रही हैं और भला इनका ब्लॉग आरंभ करने का इससे अच्छा समय और उपहार क्या हो सकता है। यह ब्लॉग हमारी छोटी बिटिया अपूर्वा : Apurva के लिए उसके तीसरे जन्म-दिन पर एक खूबसूरत उपहार है। 



तो मिलिए  प्यारी सी गुड़िया अपूर्वा से, जिसका जन्म 27 अक्टूबर, 2010  बाबा भोलेनाथ की नगरी  बनारस  में हुआ। फ़िलहाल इलाहाबाद में प्ले ग्रुप की स्टूडेंट। इनके मम्मी-पापा का नाम है - आकांक्षा - कृष्ण कुमार यादव। अपूर्वा को अच्छा लगता है - ड्राइंग बनाना, प्लेयिंग, डांसिंग, नई-नई जगहें घूमना, आइसक्रीम व चाकलेट खाना और ढेर सारी शरारतें करना।  इन सब बातों को आप सबसे शेयर करने के लिए ही तो यह ब्लॉग बनाया- 'अपूर्वा : Apurva'. वैसे इनकी  दीदी अक्षिता (पाखी) का भी एक ब्लॉग है - "पाखी की दुनिया". अपूर्वा  के बारे में आप वहाँ भी पढ़ सकते हैं। 

इस ब्लॉग पर आप पाएंगे अपूर्वा से जुड़ी  ढेर सारी बातें, घूमना-फिरना, इनकी  ड्राइंग और क्रिएटिविटी, फेमिली और स्कूल की बातें और भी बहुत कुछ. अभी तो यह बहुत  छोटी हैं,  इसलिए ममा-पापा के माध्यम से ही इनकी भावनाएं यहाँ व्यक्त होंगीं.आप सब लोग अपना आशीर्वाद और स्नेह इन्हें देते रहें, ताकि नन्ही-परी की तरह यूँ ही अपूर्वा उन्मुक्त उडान भरती रहे...!!


तुम जियो हजारों साल 
साल के दिन हों पचास हजार 

!! जन्मदिन पर अपूर्वा  को ढेर सारी शुभकामनाएं और प्यार !!